logo

Desi Gharelu Upay

pathri-hone-ke-lakshan

Plz Share

पथरी होने के लक्षण

पथरी के मुख्य लक्षणों में पीठ के निचले हिस्सों में अथवा पेट के निचले हिस्से में अचानक तेज दर्द होना ।

पेशाब में जलन होना, रुक-रुक कर पेशाब आना, पेशाब करने पर दर्द का अहसास होना ।

इसे भी पढ़ें : पथरी के घरेलू उपाय एवं उपचार

यूरिन अधिक आना, बार बार पेशाब लगने का अहसास होना ।

अगर पथरी बड़ी होती है तो दर्द पेट से लेकर उरू मूल, गुप्तांगो तक फैल सकता है।

पथरी का दर्द रुक रुक कर होता है यह कुछ मिनटो या घंटो तक बना रहता है तथा बीच-बीच में आराम मिलता है।

इसे भी पढ़ें : पेट में पथरी होने के कारण

कभी कभी तो पथरी का दर्द महींनो नहीं होता है और जब होता है तो बहुत तेज होता है ।

उल्टी दस्त होना, जी मचलाना ,बुखार आना , बैचेनी होना थकान होना आदि

इसे भी पढ़ें : पथरी का होमियोपैथिक उपचार, इलाज

पेट में गड़बड़ महसूस करना और जी मिचलाना किडनी स्टोन का संकेत हो सकता है इसमें उल्टियां भी हो सकती हैं ।

गुर्दे की पथरी से पीठ या पेट के निचले हिस्से में तेज दर्द हो सकता है, इसमें दर्द के साथ जी मिचलाने तथा उल्टी की शिकायत भी हो सकती है।

इसे भी पढ़ें : पथरी का आयुर्वेदिक इलाज, उपचार

गुर्दे की पथरी में लोगों का मूत्र अक्सर गुलाबी, लाल या भूरे रंग का आने लगता है।

इसे भी पढ़ें : गुर्दे की पथरी (Kidney Stone) में परहेज

Leave Comments

Top